Press "Enter" to skip to content

चिचगड़ में अप्पर तहसील कार्यालय का उद्घाटन..सरकार का संकल्प दुर्गम भागों का विकास -पालकमंत्री डॉ. फुके

Spread Post

चिचगड़ में अप्पर तहसील कार्यालय का उद्घाटन..सरकार का संकल्प दुर्गम भागों का विकास -पालकमंत्री डॉ. फुके

चिचगड़/देवरी।
आमगांव-देवरी विधानसभा के इस आदिवासी बहुल दुर्गम व अतिसवेंदनशील क्षेत्र के लिए आज का दिन किसी महोत्सव से कम नही है। इस क्षेत्र के लोगो के साथ न्याय हुवा है। दुर्गम और सुदूर भागो में जीवन व्यतीत करने वाले आदिवासी ग्रामीणों के विकास के बारे में पिछली सरकार ने कभी कुछ नही सोचा। परन्तु जब से मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस की सरकार सत्ता में आयी है तबसे बड़े पैमाने में विकास कार्य किये जा रहे है। मुख्यमंत्री द्वारा ही मिसपीरी/पीपरखारी के लोगो को 8 साल बाद पुनः जीने का आधार मिला है। ककोडी में करोड़ो रूपये का अत्याधुनिक अस्पताल मिला है और साथ ही कार्य करने वाला एक सक्षम विधायक संजय पुराम के रूप में मिला है। विधायक संजय पुराम की कोशिश थी कि चिचगड़ में अप्पर तहसील कार्यालय खुले। और आज वो कोशिश भी साकार हो गई। उक्त आशय का उदगार आदिवासी विकास व वन तथा सार्वजनिक बांधकाम राज्यमंत्री एवं पालकमंत्री गोंदिया जिला डॉ. परिणय फुके ने व्यक्त किये।

वे आज आमगांव-देवरी विधानसभा क्षेत्र के चिचगड़ में अपर तहसील कार्यालय इमारत के उद्धाटन के अवसर उद्घाटक के रुप मे बोल रहे थे। इस अवसर पर विधायक संजय पुराम, भाजपा जिला संगठन मंत्री वीरेंद्र अंजनकर, जिप उपाध्यक्ष अल्ताफ हमीद, जिलाधिकारी कादम्बरी बलकवडे, चिचगड़ सरपंच कल्पना गोस्वामी, पंस सदस्य देवकीबाई मरई, सभापति देवरी नंदाबाई बहेकार, उपसभापति गणेश सोनबोइर, पंस सदस्य गणेश तोपे, महेश जैन, भरतभाऊ दूधनाग समेत अनेक मान्यवर उपस्थित थे।

पालकमंत्री डॉ. फुके ने आगे कहा कि, इस क्षेत्र के ग्रामीणों को लंबी दूरी तय कर अनेक प्रकार के कार्यो के लिए देवरी तहसील कार्यालय आना पड़ता था। दुर्गम व नक्सलग्रस्त क्षेत्र होने के कारण अनेको बार विलंब होने पर उन्हें उसका सामना करना पड़ता था। इस गंभीर समस्या को विधायक संजय पुराम ने मेरे समक्ष रखा था। जिसके बाद इस समस्या का समाधान कर चिचगड़ में अप्पर तहसील कार्यालय प्रारंभ करने का निर्णय मैंने पिछले दौरे के दौरान 19 अगस्त को लिया था। जिसे अंतिम रूप देते हुए आज से ये अप्पर तहसील कार्यालय जनता के सुविधा हेतु प्रारम्भ है।
पालकमंत्री ने कहा, वे आदिवासी विकास, वन और साथ ही सार्वजनिक बांधकाम विभाग के मंत्री भी है। उनका संकल्प है कि आदिवासी बहुल क्षेत्रो का बड़े पैमाने में विकास हो। स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार पर निरन्तर प्रयास कर रहे है। ना. फुके ने आगे कहा इस क्षेत्र में एक हजार करोड़ के विकास कार्य किये जा रहे है। देवरी ओद्योगिक विकास क्षेत्र में कंपनी स्थापित की गई है जिससे हजारों स्थानीय लोगो को रोजगार मिलेगा। स्वास्थ्य के लिए दुर्गम भागों में प्रथम इलाज के लिए बाइक एम्बुलेन्स प्रारम्भ की गई है। देवरी में 12 करोड़ से अधिक निधि से उपजिला रुग्णालय इमारत का भूमिपूजन किया जा चुका है। आदिवासी आश्रमशालाओं में स्मार्ट रूम, ई लाइब्रेरी, स्पर्धा परीक्षाओं का प्रशिक्षण प्रारम्भ कर दिया गया है।

पालकमंत्री ने कहा, और भी विकास कार्य इस क्षेत्र में किये जाने है। अगर ऐसा ही आशीर्वाद मिलता रहा तो वे शासन से भरपूर निधि इस क्षेत्र के विकास में खर्च करेंगे ऐसा वादा भी पालकमंत्री डॉ. परिणय फुके ने उपस्तिथो के समक्ष किया।

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

14 − 2 =