Press "Enter" to skip to content

जेसीआई सप्ताह… कूड़ा-कचरा प्रबंधन में डाक्टरों द्वारा अनूठी पहल

Spread Post

जेसीआई सप्ताह…
कूड़ा-कचरा प्रबंधन में
डाक्टरों द्वारा अनूठी पहल

गोंदिया टुडे न्यूज नेटवर्क।
गोंदिया:- जूनियर चेंबर इंटरनेशनल (जेसीआई) की गोंदिया सेंट्रल शाखा की ओर से कूड़ा-कचरा प्रबंधन की दिशा में शाखा के अध्यक्ष डाक्टर नितेश बाजपेई की अगुवाई में कार्यक्रम आयोजित किया गया। नगर स्थित प्रसिद्ध चिकित्सकों के विचार जानने के प्रयास किए गए कि वे घरों से निकलने वाले कूड़ा-कचरे के प्रबंधन की दिशा में कौन-कौन से उपाय करते हैं।

सर्वप्रथम नगर की दंत रोग विशेषज्ञ डॉ.मौसमी तिवारी ने बतलाया कि घर से निकलने वाले कूड़ा-कचरे को उन्होंने दो भागों में विभक्त किया है गीला और सूखा जिसका संग्रह करने के लिए दो अलग-अलग व्यवस्था की गई है।

स्त्री रोग विशेषज्ञ डॉ. शारदा साबू ने बतलाया कि वे गीले कचरे को खाद के रूप में परिवर्तित करने का काम करती हैं। डॉ. पूनम पारधी ने बतलाया कि सूखे कूड़े को वे म्युनिसिपल की गाड़ी के हवाले कर देती हैं। नगर की प्रसिद्ध महिला रोग विशेषज्ञ डॉ. अल्का बाहेकार तथा गोंदिया मेडिकल कॉलेज की प्रो. डॉ. गार्गी बाहेकार ने बतलाया कि घरों के गीले कूड़े के प्रबंधन में काफी सतर्कता बरतनी चाहिए क्योंकि चूहे इन्हें खाते हैं जिससे रोगों के फैलने का खतरा बना रहता है।

चर्म रोग विशेषज्ञ डॉ. दिगंबर व रश्मि पारधी ने भी कहा कि घरेलू कूड़ा-कचरे का प्रबंधन काफी सावधानी चाहता है। आज स्वच्छता अभियान हर जगह चलाया जा रहा है ताकि गंदगी के कारण जनस्वास्थ्य पर विपरीत असर न पड़े। डॉ. शारदा साबू ने भी कूड़ा-कचरे के प्रबंधन के प्रति लापरवाही न बरतने की सलाह दी।

जेसीआई सेंट्रल द्वारा सभी डॉक्टरों के 2-2 मिनटों के विडियो बनाये गये हैं ताकि सोशल मीडिया के विभिन्न माध्यमों द्वारा जन जागरूकता के लिए उन्हें फैलाया जा सके।

कार्यक्रम में डाक्टर नितेश बाजपेई के अलावा कु. पूजा तिवारी, कु. माधवी चुटेलकर, मुन्नालाल यादव, कमलेश शाह, मिलन चौधरी, निशा साधेपाच आदि प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight − seven =