Press "Enter" to skip to content

महाराष्ट्र के गोंदिया जिले के दो लोग कर रहे थे तस्करी और रंगे हाथ दबोचे गए, क्या था मामला

Spread Post

आरोपियों को 5 वर्ष कारावास व 20 हजार रूपए अर्थदंड की सजा

Gondia Today News Network

Gondia:. विचारपुर व मालडोंगरी के मध्य मोटर सायकल से बोरी में भरकर गांजा की पत्ती को आरोपी लेकर आ रहे थे इसी दौरान पुलिस ने घेराबंदी का धरदबोचा। प्रकरण के अनुसार आरोपी सोनूराम पिता बहुरदास साबरसाठी आयु 48 वर्ष और लखनलाल पिता मिलन गंगबोईर उम्र 58 वर्ष दोनों निवासी चिलहाटी, थाना चिचगढ़, जिला गोंदिया (महाराष्ट्र) को 8 दिसंबर 2017 को थाना छुरिया क्षेत्रांतर्गत ग्राम मालडोंगरी, विचारपुर व ग्वालदंड क्षेत्र सर्चिंग में निकले बेस कैंप जोब आईटीबीपी में पदस्थ इंस्पेक्टर राजवीर सिंह एवं इंस्पेक्टर अरविंद कुमार एवं सीजीपी स्टॉफ द्वारा ग्राम विचारपुर व मालडोंगरी के मध्य अपने स्प्लेंडर मोटर सायकल से बोरी में भरकर गांजा की पत्ती लेकर आते हुए रंगेहाथ पकड़ा गया।

पूछताछ पर गांजा की पत्ती महाराष्ट्र से लेकर आना बताया गया। पुलिस द्वारा मौके पर नियमानुसार कार्रवाई करते हुए आरोपियों के कब्जे से 4 किलोग्राम वजनी गांजा कीमत 24 हजार रूपये बरामद किया गया। प्रार्थी राजवीर सिंह की रिपोर्ट पर थाना छुरिया द्वारा मामला दर्ज कर जांच में लिया गया था तथा आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजा गया था। थाना छुरिया द्वारा संपूर्ण विवेचना के बाद आरोपियों के विरूद्ध चालान विचारण के लिए विशेष न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया था।

न्यायाधीश ने सुनाया फैसला

न्यायाधीश शेख अशरफ द्वारा विचारण उपरांत मामले में निर्णय घोषित कर अभियुक्त के विरूद्ध आरोप सिद्ध पाते हुये आरोपियों सोनूराम साबरसाठी और लखनलाल गंगबाईर को धारा 20 (ख) (पप) (ख) नारकोटिक्स एक्ट, 1985 के अधीन 5-5 वर्ष (पांच-पांच) का कठोर कारावास तथा 20 हजार-20 हजार रूपए का अर्थदंड तथा अर्थदंड अदा न किये जाने की दशा में 6-6 माह का कठोर कारावास की सजा अलग-अलग भुगतान किए जाने का दंडादेश पारित किया गया। मामले में छत्तीसगढ़ राज्य की ओर से विशेष लोक अभियोजक (एनडीपीएस एक्ट) राजनांदगांव धन्नू लाल सेन ने पैरवी की

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

15 + 20 =