fbpx Press "Enter" to skip to content

भाभी रोज करती थी देवर के खाने में ये काम, जानकर आपके उड़ जायँगे होश

Spread Post

आरोपी का कहना है कि भाभी से पीछा छुड़ाने के मकसद से उसने जान से मारने की नियत से यह हमला किया था। आरोपी अर्जुन ने पुलिस के कब्जे में बताया कि वह अपनी भाभी रीता के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रह रहा था। इर रिश्ते से तंग आकर उसने भाभी को जान से मारने की नीयत से गंभीर रूप से घायल कर दिया और कमरे को बाहर से बंद करके भाग खड़ा हुआ।
मूल रूप से बिहार के आरा के रहने वाले अर्जुन नाम के आरोपी ने बताया है कि भाभी इस रिश्ते को बनाये रखने के लिए तांत्रिक के कहने पर हर रोज उसे खाने में अपना खून मिला कर देती थी। लेकिन वह इस रिश्ते को समाप्त करना चाहता था। जिस कारण से 22-23 जून की रात को नरेला इंडस्ट्रियल इलाके में रहने वाली भाभी पर झगड़े के बाद जान से मारने की नियत से पत्थर से हमला करके उसे मरा समझकर मौके से फरार हो गया।

आरोपी ने के अनुसार उसकी भाभी उससे बहुत अधिक प्यार करने लगी थी और उसे वश में बनाये रखने के लिए उसने साधु बाबा के कहने पर तंत्र-मंत्र क्रिया प्रारम्भ करते हुए पिछले एक वर्ष से अपना खून मेरे खाने में मिलाकर मुझे पिलाना प्रारम्भ कर दिया था। इस हरकत के लिए मना करने पर वह नाराज हो जाती थी। मैं उसकी इस हरकत से बहुत दुखी हो गया था, इसलिए मैंने यह सब किया। इस तरह पुलिस पहुंची हमलावर तक

दूसरी ओर हमलावर के फरार होने पर सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची नरेला पुलिस ने घायल मिली औरत को अस्पताल में दाखिल कराया जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस के मुताबिक इस मामले की जांच के दौरान पुलिस को औरत के कमरे एक मोबाइल फोन का खाली डिब्बे पर आईएमईआई नम्बर लिखा मिला जिसके नंबर का मोबाइल फोन प्रयोग करने के बाद देहरादून जाकर बन्द कर दिया गया था।

पुलिस ने उसी के जरिए मोबाइल प्रयोग कर रहे व्यक्ति का फोटो खोज निकाला। फोटो पड़ोसियों को दिखाने पर पता चला कि उसका नाम अरुण है जो कि बाद में पड़ोसियों तक को अपना नाम गलत बताने के कारण गलत निकला। केस की कड़ी दर कड़ी जोड़ते हुए पुलिस आरोपी की सही पहचान करने में सफल हो गई।

Connect us on Social Media
More from IndiaMore posts in India »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × 4 =